Interesting Information About Crow in Hindi | कौवे के बारे में रोचक तथ्य/जानकारी

Interesting Information about Crow in Hindi | कौवे के बारे में रोचक तथ्य/जानकारी

Interesting Information about Crow in Hindi | नमस्कार दोस्तों आज मै इस आर्टिकल के जरिये जानेगे कौवे के बारे में रोचक तथ्य/जानकारी के बारे में। कौवा बहुत ही चालक और बुद्धिमान पक्षी है। यह पक्षी किसी भी इंसान को एक बार देखने पर उसे हमेशा याद रखता है। अगर कोई भी इंसान इनके साथी को मार देता है। तो यह पक्षी उसका पीछा करके उसे परेशान कर देते है। हलाकि जल्दी से कोई भी इंसान इस पक्षी को पकड़ नहीं सकता है। यह बहुत तेज और फुर्तीले होते है। तो चलिए इसी तरह के ओर रोचक जानकारियो के लिए Interesting Information about Crow in Hindi | कौवे के बारे में रोचक तथ्य/जानकारी को ध्यान से और पूरा पढियेगा :-

Interesting Information about Crow in Hindi | कौवे के बारे में रोचक तथ्य/जानकारी

1-10 Interesting Information about Crow in Hindi

1.आप सभी जानते है की धरती पर हर एक वस्तु का वैज्ञानिक नाम होता है.उसी तरह कौवे का वैज्ञानिक नाम ( Corvus ) है

2.पूरी दुनिया में कौवों की करीबन 40 प्रजातीय मौजूद है

3.कौवा : इस पक्षी की कद में सबसे छोटी प्रजाति मेक्सिको में पाई जाती है.इसका नाम Dwarf Jay है.इसकी लम्बाई करीबन 20 से 23 सेंटीमीटर तक होती है और इसका वजन सिर्फ 40 ग्राम होता है

4.कौवा : इस पक्षी का वजन करीबन 500 ग्राम से लेकर 1500 ग्राम तक हो सकता है

5.अंटार्कटिका इस जगह को छोड़कर दुनिया के हर महाद्वीप पर कौवा पाया जाता है

6.कौवा इस पक्षी की सबसे बड़ी प्रजाति इथोपिया में पाई जाती है. इसका नाम Thick Billed Raven है.इसकी लम्बाई 65 सेंटीमीटर और इनका वजन करीबन 1500 ग्राम तक होता है

7.कौवा : इस पक्षी के समूह को ”Murder” कहा जाता है

8.कौवा : जब इस पक्षी को किसी इंसान या जानवर द्वारा खतरा महसूस होता है.तब यह आवाज लगाकर अन्य कौवे यानी अपने साथियों को बुलाता है

9.कौवा : यह पक्षी किसी भी मनुष्य या जानवर द्वारा किये गए अच्छे या गलत व्यावार से उस इंसान को पहचान लेते है और उनके द्वारा प्यार या दुश्मनी की भावना याद को रखते है

10.कौवा : इस पक्षी की अलग-अलग प्रजातिया अलग-अलग आकार व रंग रूप की होती है

  • अमेरिकन कौवा (American Crow)  45 सेंटीमीटर
  • फ़िश क्रो (Fish Crow)  48 सेंटीमीटर
  • काला कौवा (Raven) आकार में काफ़ी बड़ा होता है, लगभग 69 सेंटीमीटर

11-20 Interesting Information about Crow in Hindi

11.कौवा : यह पक्षी किसी को चेतावनी देने के लिए अलग-अलग तरह की 250 आवाजे निकाल सकते है 

12.जब किसी कौवे की मौत होती है.तब कई कौवे आकार उस जगह की छानबीन करते है की उस कौवे की मौत कैसे हुई. ताकि भविष्य में उस खतरे से खुद को बचाया जा सके 

13.आपको जानकर हैरानी होगी की कौवे वेंडिंग मशीन में सिक्का डालकर खाने का सामान निकालना सीख सकते है।

14.कौवे की गिनती निडर पक्षियों में की जाती है यह पक्षी इतना निडर होता है की अपने से 9 गुना बड़े व वजन वाले पक्षी बाज़ को भी परेशान कर देते है

15.क्या आप जानते है की साल 1934 से 1954 तक लगभग एक हजार से ज्यादा फीचर फिल्मो में (Jimmy the Raven) नामक एक प्रशिक्षित कौवा ने काम किया था।

16.स्वीडन देश में कौवों को मरे हुए लोगो की आत्मा माना जाता है

17.जापानी, कोरियाई और चीनी पौराणिक कथाओं में तीन पैर वाले कौवे का उल्लेख किया गया है

18.कौवा : इस पक्षी को सिखाने पर यह 1 से 7 तक गिन व बोल सकते है

19.क्या आप जानते है की कौवे अपने मरे हुए साथी कौवे का अंतिम संस्कार करते है इस क्रिया में कई दुसरे कौवे भी भाग लेते है

20.बड़ा ही मजेदार तथ्य है.की कौवे और उल्लू एक दुसरे के पक्के दुश्मन होते है वह जब भी एक दुसरे को देखते है एक दुसरे पर हमला कर देते है

21-30 Interesting Information about Crow in Hindi

21.कौवे उन कौवे के बच्चों को भी पालते हैं. जिन्हें उन्होंने जन्म नहीं दिया होता. एक तरह से हम कह सकते हैं कि वे बच्चे को गोद लेकर पालते हैं. ऐसे कौवे के बच्चे भी अपने दत्तक माँ और पिता के प्रति आभारी होते हैं. जब वही माता-पिता नए को जन्म देते हैं, तो गोद लिये हुए बच्चे नए जन्मे बच्चे की सुरक्षा व देखभाल लिए घोंसले के आस-पास रहते हैं

22.ज्यादातर कौवे वही जगह के आस-पास रहना पसंद करते है. जहा पर उनका जन्म हुआ है वह जल्दी से उस जगह से नहीं जाते है

23.कौवा : यह पक्षी एक बार में करीबन 5 से 6 अंडे देने में सक्षम होते है. इनके अंडे हरे व धब्बेदार होते है

24.मादा कौवे 3 साल में यौन कुशलता और नर कौवे 6 साल में यौन कुशलता प्राप्त कर लेते हैं

25.कौवा इस पक्षी की याद्दाश्त बहुत तेज होती है.कई बार यह खाने के टुकडो को अलग-अलग जगहों पर छुपा देते है.और हमेशा उन्हें यह बात याद रहती है.की उन्होंने खाना कहा छुपाया था

26.पालतू कौवे तोते से बेहतर बात कर सकते हैं. कुछ कौवे 100 शब्द तक सीख लेते हैं. कौवा दूसरे जानवरों और पक्षियों जैसे चिड़िया की आवाजों, कार इंजन और टॉयलेट फ्लश की आवाज़ की नकल कर लेते हैं

27.क्या आपको पता है की इज़राइल देश में वाइल्ड हूडेड क्रो कौवे ने ब्रेड के चूरे को चारे के रूप में उपयोग करके मछली पकड़ना सिखा हैं

28.क्या आप जानते है की जापान देश में कुछ कौवे अपना घोंसला बनाने के लिए मेटल के कोट हैंगर चोरी करते हैं. कुछ कौवे बिजली के तारों के ऊपर घोंसले बनाते हैं.तारो के उपर घोंसला बनाने के चक्कर वह कभी-कभी सितारों के पास पहुच जाते है

29. क्या आपको पता है. की कौवे अक्सर चींटियो के बिल के पास लेट जाते हैं, ताकि चींटियाँ उनके पंखों में आ सके. यह अभी तक एक अनसुलझे रहस्य है. कि वे वास्तव में ऐसा क्यों करते हैं? कुछ लोगो का मानना है. वह ऐसा इसीलिए करते है की चींटिया उनके शरीर पर उनके नुकसान पहुचाने वाले परिजीवियो को खा जाये

30.कौवा : इस पक्षी को अंडा चोर भी कहा जाता है. यह दूसरे पक्षियों के घोंसलों पर नजर रखते हैं, ताकि मौका पाकर उनके अंडे चोरी कर सकें.इसके साथ-साथ दुसरे पक्षियों द्वारा अपने बच्चों के लिए लाये जाने वाले भोजन को भी झपट्टा मारकर चुरा लेते हैं

 31-40 Interesting Information about Crow in Hindi

31.भारत में कौवे की 6 प्रजातियाँ पाई जाती हैं.लेकिन इनमे से ज्यादातर तीन प्रजातिया ही दिखाई देती है. इनमें से छोटा घरेलू कौवा ,जंगली कौवा और काला कौवा ही अधिकतर दिखाई देते हैं।

32.Big Bertha नामक मादा कौवे के नाम जीवन भर प्रजनन का गिनीज़ बुक वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज हैं, जिसने लगभग 49 वर्ष तक के जीवनकाल  में 39 कौवों को जन्म दिया था।

33.अमेरिकन कौवे (American Crow) सर्दियों के मौसम में गर्म स्थानों पर चले कर जाते हैं।

34.कौवा : यह पक्षी कही भी घोंसले बना लेते हैं. जैसे खंभे, पेड़ की डाली व चट्टानों के किनारे आदि और अंडे देने के बाद घोंसले में ही मादा अंडों के साथ रहती है।

35.कौवा : यह पक्षी ज्यादातर एक मादा कौवे के साथ अपना जीवन बिताता है.लेकिन कई बार नर कौवा धोका देकर दूसरी मादा कौवे के साथ संभोग कर लेते है।

36.क्या आपको पता है की कौवा इतना बुद्धिमान होता है.की उसका दिमाग चिंपैंजी के दिमाग के बराबर होता है

37.भारत देश में यह माना जाता है.की अगर कौवा छत पर अपनी कर्कश आवाज़ में “ कांव-कांव ” करे तो वह अनहोनी की चेतावनी का सन्देश होता है

38.भारत में पितृ पक्ष में पूर्वजों को भोजन कराने के तौर पर पहले कौवों को भोजन कराया जाता है. माना जाता है कि मरने के बाद व्यक्ति सबसे पहले कौवे के रूप में जन्म लेता है. कौवों को भोजन कराना उन पूर्वजों को भोजन कराने के बराबर माना जाता है

39.दो ऐसी कौवों की प्रजाति है जिन्हें संकटग्रस्त कौवों की प्रजाति में सूचीबद्ध किया है

  1.  हवाईयन कौवा (Hawaiian crow) 
  2. मारियाना कौवा (Mariana crow)

40.कौवे भोजन की तलाश के लिए Tools का उपयोग करते हैं, अक्सर वे कई वस्तुओं को ले जाने के लिए टहनियों का उपयोग करते हैं।

41-50 Interesting Information about Crow in Hindi

41.कौवे क्या खाते हैं? कौवे आमतौर पर अनाज, बीज, नट, फल, जामुन और कई प्रकार के छोटे जानवरों जैसे केंचुआ, चूहे और विभिन्न अपशिष्ट पदार्थों को खाते हैं।

42.कौवा एक बहुत साधारण सा पक्षी है. यह रंग में काला है.इसे चालाक पक्षी के रूप में जाना जाता है। इसकी एक तेज,धारदार और मजबूत चोंच होती है.इसके पंजे बहुत मजबूत व नुकीले होते हैं।

43.कौवा : यह पक्षी सिर्फ मनुष्य और जानवरों, खासकर कुत्तों से बहुत ज्यादा डरता है।

44.क्या आप जानते है.की कौवे को मेहतर यानी एक तरह का कचरा साफ़ करने वाला कहा जाता है।

45.कौवों का जीवनकाल लगभग 20 सालो का होता है, लेकिन पालतू कौवे, जंगली कौवे के मुकाबले में अधिक समय तक जिन्दा रहते हैं। जंगल में रहने वाला सबसे पुराना कौवा लगभग 30 वर्ष की आयु का था. जबकि सबसे पुराना पालतू कौवा 59 वर्ष की आयु तक जिन्दा रहा।

46.सामाजिक जानवरों के रूप में, कौवे को कभी-कभी खाली मैदान में खेलते-कूदते देखा गया है.यह चंचल पक्षी अन्य कौवे के साथ खीचा तानी करके भी खेल सकते हैं।

47.क्या आपको पता है.की कौवे दोनों आँखों के मुकाबले एक आंख से ज्यादा देख सकते है।

48.अगर आप एक कौवे से दोस्ती करते है.तो आपको रोजाना कौवे के द्वारा अलग-अलग चीजे उपहार के रूप में मिल सकती है।

49.कौवे के बच्चे को “रूकेरी” कहा जाता है।

50.क्या आप जानते है. की कौवों को भूटान देश का राष्ट्रीय पक्षी घोषित किया गया है

निष्कर्ष 

दोस्तों अगर आपको मेरे द्वारा लिखा गया यह लेख Interesting Information about Crow in Hindi | कौवे के बारे में रोचक तथ्य/जानकारी पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों व रिश्तेदारों के साथ शेयर जरुर करे। हमे कमेन्ट करके जरुर बताये की आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा जिससे हमे नए-नए और ज्ञान भरे लेख लिखने के लिए प्रोत्साहन मिले। इसी तरह की जानकारी भरे लेख की सूचना सबसे पहले पाने के लिए हमे सब्सक्राइब करे। आपके कीमती समय के लिए धन्यवाद 

जय हिन्द जय भारत

अन्य पढने योग्य लेख